बड़ी ख़बर: मार्च में होगा लोकसभा चुनाव 2019 की तारीखों का ऐलान, जानिए तारीख

0
175
loksabha elections 2019 date announced

नई दिल्ली: देश में सबसे बड़े सियासी महाकुंभ यानि लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर सभी पार्टियों में इन दिनों तैयारी जोरो पर है। हर पार्टी अपने अपने तरीके से जोड़-तोड़ में लगी हुई है। भले ही अभी तक तारीखों का ऐलान न हुआ हो लेकिन नेताओं के बयान और वादे शुरु हो चुके हैं। लेकिन, अब जबकि फरवरी का महीना भी अपने अंतिम पड़ाव पर है हर कोई ये जानने को उत्सुक है कि इस बार चुनावों की तारीख क्या होगी। आम जनता से लेकर देश की पार्टियों तक सभी को इंतजार है चुनावों की तारिख का। लोकसभा चुनाव 2019 की तारीख क्या होगी? आइये जानते हैं।

लोकसभा चुनाव 2019 की तारीख

रिपोर्ट के मुताबिक, चुनाव आयोग मार्च के दुसरे सप्ताह में लोकसभा चुनाव 2019 की तारीख की घोषणा कर सकता है। रिपोर्ट की माने तो चुनाव आयोग 7 से 10 मार्च के बीच चुनाव की तारीख का ऐलान कर सकता है। लेकिन, भले ही अभी तक तारीखों की घोषणा न हुई हो ये सभी को मालूम है कि इस बार चुनाव काफी दिलचस्प होने वाला है।



खास बात ये है कि 2019 के चुनावों में राष्ट्रीय पार्टियों से ज्यादा क्षेत्रीय पार्टियों पर सभी की दिलचस्पी है। जिस तरह से कांग्रेस और बीजेपी जैसी देश कि बड़ी पार्टियां क्षेत्रीय पार्टियों के साथ गठबंधन कर रही हैं उससे लोकसभा का चुनाव काफी मजेदार होने की संभावना बढ़ गई है।

पार्टियों में लगी है गठबंधन की होड़

बीजेपी ने जिस तरह से साल 2014 के लोकसभा में प्रदर्शन किया था उसको देखते हुए सभी क्षेत्रीय पार्टियां महागठबंधन करने की तैयारी कर रही हैं। एक ओर जहां यूपी में सपा-बसपा साथ आ चुके हैं। तो वहीं महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना ने गठबंधन कर लिया है। हाल ही में हुए 3 राज्यों के चुनावों में बीजेपी ने मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सत्ता गवां दी जिसके बाद से ही ऐसा माना जा रहा है कि इस बार बीजेपी के लिए साल 2014 वाली स्थिति नहीं रहने वाली है। बता दें कि महाराष्ट्र में फिर एक बार बीजेपी-शिवसेना का गठबंधन हुआ है।



दक्षिण भारत में भी इस बार बीजेपी ने AIA DMK के सात तो कांग्रेस ने DMK के साथ गठबंधन किया है। बात कर्नाटक की करें तो यहां कांग्रेस और जेडीएस साथ चुनावी मैदान में उतरेंगे। तो वहीं यूपी में मायावती और अखिलेश में सीटों का बंटवारा आज हो गया है। एसपी और बीएसपी के बीच उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों के लिए गठबंधन हुआ है, जिसमें से दोनों पार्टियों ने लगभग आधी-आधी सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

कई राज्यों के विधानसभा चुनाव भी होंगे साथ

इस बार के लोकसभा चुनाव के साथ ही आंध्र प्रदेश, ओडिशा, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव भी हो सकते हैं। बता दें कि सिक्किम विधानसभा का कार्यकाल मई में आंध्र प्रदेश, ओडिशा और अरुणाचल प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल जून में पूरा हो रहा है। तो ऐसे में पूरी संभावना है कि चुनाव आयोग लोकसभा के साथ ही इन राज्यों में विधानसभा चुनाव भी कराने की तारीखों की घोषणा कर दे।



गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर विधानसभा भी पिछले साल नवंबर में भंग हो गई थी जिसके बाद नियमों के मुताबिक नई विधानसभा का गठन छह महीने की निर्धारित अवधि में होना है। इसलिए जम्मू कश्मीर में भी चुनाव कराये जा सकते हैं। हालांकि, हाल ही में हुए पुलवामा हमले के बाद से जम्मू कश्मीर के हालात चुनाव कराने के लिए सही नहीं दिख रहे इसलिए चुनाव आयोग इसपर सुरक्षा इंतजामों की पुष्टि के बाद ही निर्णय ले सकता है।

कमेंट करेंः

Please enter your comment!
Please enter your name here