रेलवे भर्ती परीक्षा 2018: नौकरी की मारामारी, 90 हजार वैकेंसी के लिए 2 करोड़ 50 लाख से ज्यादा आवेदन

0
147
rrb-recruitment-2018-last-date-to-register

देश में बेरोजगारी का आलम इसी बात से पता चलता है कि रेलवे भर्ती परीक्षा 2018 के लिए वैकेंसी से ज्यादा आवेदन आ चुके हैं। रेलवे ने अलग अलग पदों के लिए 90 हजार वैकेंसी निकाली है जिसके लिए अब तक 2 करोड़ 50 लाख से ज्यादा आवेदन आ चुके हैं। हैरानी की बात है कि आवेदन की संख्या दिल्ली या ऑस्ट्रेलिया की जनसंख्या से भी अधिक है।

रेलवे भर्ती परीक्षा 2018 के लिए वैकेंसी से ज्यादा आवेदन

रेलवे भर्ती बोर्ड ने ग्रुप सी (असिस्टेंट लोको पायलट और टेक्नीशियन) के 26502 और ग्रुप डी (गैंगमैन, खलासी, गेटमैन, प्वांइटमैन आदि) के 62907 पदों पर भर्तियां निकाली हैं। जिसके लिए 2 करोड़ 50 लाख से ज्यादा आवेदन आये हैं। आवेदन और सीटों की संख्या पर ध्यान दें तो 280 आवेदकों में से 1 व्यक्ति को ही नौकरी मिलेगी।

अश्विनी लोहानी रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने बताया कि, रेलवे पिछले कई सालों से भर्ती नहीं कर रहा था। लेकिन अब जरुरत है। रेलवे भर्ती बोर्ड की ओर से पिछले महीने 90 हजार भर्तियों की अधिसूचना जारी की गई थी जिसके लिए 2.5 करोड़ से ज्यादा लोग आवेदन कर चुके हैं।

देश में नौकरी का अभाव

इकोनॉमिक थिंक-टैंक सीएमआईई के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर महेश व्यास के मुताबिक, इतनी भारी संख्या में आये आवेदन दर्शाता है कि देश में नौकरियों का कितना अभाव है। इसीलिए, युवाओं ने इतने कम पदों पर इतने अधिक एप्लिकेश भरे हैं। हालांकि, यह रेलवे द्वारा निकाली गई अब तक की सबसे बड़ी भर्ती है। इसके बावजूद इतनी भारी संख्या में आवेदन आये हैं कि ये भी कम पड़ जायेंगी।

एक रेलवे अधिकारी ने बताया कि, इस भर्ती की परीक्षा के बाद पास हुए आवेदकों की नियुक्ति प्रक्रिया में डेढ़ से दो साल का समय लगेगा। इइ पदों के लिए कंप्यूटर पर टेस्ट लिया जायेगा जो अप्रैल-मई 2018 में किया जा सकता है। इन पदों के लिए आवेदन सिर्फ ऑनलाइन मोड से ही किया जा सकता है। रेलवे की इस भर्ती के लिए 15 भाषाओं में प्रश्न पत्र दिये जाएंगे। ये प्रश्न पत्र हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, बंगाली, पंजाबी, गुजराती, कन्नड़, कोंकणी, असमिया, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, उड़िया, तमिल और तेलुगु भाषाओं में होंगे।

कमेंट करेंः

Please enter your comment!
Please enter your name here