प्रैग्नेंसी में मां और बच्चे दोनों को स्वस्थ रखता है योगासन, जानिए कौन से आसन होंगे फायदेमंद

0
210
yogasana-in-pregnancy-both-mother-and-child

ज्यादातर महिलाओं को आज गर्भावस्था में अधिक देखभाल की जरुरत पड़ती है। इसकी सबसे बड़ी वजह आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में खुद का फिट न रख पाना है। खासकर मां बनने के दौरान हर महिला को काफी परेशानियों से गुजरना पड़ता है। मां बनने का एहसास हर महिला की जिदंगी का सबसे सुखद होता है। ऐसे में हर मां ये चाहती है कि उसका बच्ची पूरी तरह से तंदुरुस्त हो। क्योंकि, प्रैग्नेंसी के दौरान महिलाओं की बॉडी में कई हॉर्मोन्स बदलाव आते है, जिसकी वजह से उन्हें कई प्रॉबल्म से गुजरना पड़ता है। लेकिन, गर्भावस्था में योगासन के फायदे जानकर हर महिला को यह करना चाहिए।

गर्भावस्था में योगासन के फायदे

गर्भावस्था में योगासन के फायदे महिलाओं को काफी अधिक होते हैं। योगासन ने महिलाओं को प्रेग्नेसी की परेशानियों से राहत के साथ साथ डिलीवरी भी आसान होती है। प्रैग्नेंसी के दौरान योगासन करने से गर्भ में पल रहे बच्चे का विकास होता होगा। इसलिए आज आपको कुछ योगासान बताएंगे, जिन्हें प्रैग्नेंसी के दौरान करना मां और बच्चे दोनों के लिए काफी फायदेमंद होता है।

तितली आसन

PunjabKesari

तितली आसन करने से बॉडी की फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ती है, जो प्रैग्नेंसी और डिलीवरी के दौरान काफी जरुरी है। इससे डिलीवरी में दर्द कम होता है।

कटि चक्रासन

PunjabKesari

यह आसन प्रैग्नेंसी के दौरान काफी पॉपुलर माना जाता है। इस आसन से दोनों बाजुओं, गर्दन तथा कमर की एक्‍सरसाइज होती है। प्रैग्नेंसी के दौरान इसे करने से पेट दुरुस्‍त रहता है और तनाव कम होता है।

अनुलोम विलोम

PunjabKesari

वैसे तो अनुलोम विलोम कभी भी करना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है लेकिन प्रैग्नेंसी के दौरान करने से बॉडी का ब्‍लड सर्कुलेशन ठीक रहता है। इस आसन से ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है।

ताड़ासन

Image result for ताड़ासन

प्रैग्नेंसी के शुरुआती 6 महिनों में ताड़ासन करना बेहतर होता है। इस आसन से दिमाग और मसल्‍स मजबूत होती हैं।

शवासन

Image result for शवासन

प्रैग्नेंसी के दौरान शवासन करने से मानसिक शांति के साथ साथ गर्भ में पल रहे शिशु के विकास में मदद भी मिलती है।

कमेंट करेंः

Please enter your comment!
Please enter your name here