शेयर बाजार में भारी गिरावट का दौर जारी, निवेशकों को 1.67 लाख करोड़ रुपए का नुकसान

0
162
share-market-sensex-and-nifty

मुम्बई – शेयर बाजार में भारी गिरावट का दौर चल जारी है। बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के कारण बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के सेंसेक्स और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के निफ्टी में भारी गिरावट जारी है। रिपोर्ट के मुताबिक, गिरावट की वजह से केवल एक दिन में ही निवेशकों को 1.67 लाख करोड़ का नुकसान हुआ है। शुक्रवार को सेंसेक्स में 510 अंकों और निफ्टी में 165 अंकों की गिरावट दर्ज की गई। सेंसेक्स 33176 अंक और निफ्टी 10195 के स्तर पर बंद हुआ।

शेयर बाजार में भारी गिरावट का दौर जारी

इस गिरावट के प्रमुख कारणों में विश्लेषणकर्ता इसे चंद्रबाबू नायडू की तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) के राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) से अलग होने और फिर सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की घोषणा को मान रहे हैं। माना जा रहा है कि देश में बदलते राजनीतिक घटनाक्रम का बाजार पर नकारात्मक असर पड़ा है।

एचडीएफसी, ओएनजीसी, एनटीपीसी, सन फार्मा, टाटा मोटर्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज और आईटीसी जैसी ब्लूचिप कंपनियों के शेयरों में गिरावट देखी गई है। बैंकों के शेयरों में भी गिरावट हुई है। शुक्रवार को शेयर बाजार में भारी गिरावट का दौर देखा गया और इसकी वजह से एक दिन में ही निवेशकों को 1.83 लाख करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ा।

राजनीतिक घटनाक्रम का पड़ा नाकारात्मक असर

एसएमसी इन्वेस्टमेंट्स के प्रबंध निदेशक व सलाहकार डी. के. अग्रवाल के मुताबिक, “कमजोर वैश्विक संकेतों और व्यापारिक-युद्ध की आशंकाओं व तेल व प्रौद्योगिकी शेयरों में गिरावट की वजह से घरेलू शेयर बाजारों में गिरावट का दौर जारी है।” अग्रवाल के मुताबिक, राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन से तेलुगू देशम पार्टी के अलग होने की वजह से शेयर बाजार पर नकारात्मक असर पड़ा है।

बीते हफ्ते में दर्ज किये घए आर्थिक आंकड़ों के मुताबिक, भारत की औद्योगिक उत्पादन वृद्धि दर पिछले साल की तुलना में 3.5 फीसदी से दोगुना से अधिक बढ़कर इस साल 7.5 फीसदी हो गई थी। लेकिन, फरवरी में खुदरा महंगाई दर घटकर 4.4 फीसदी रह गई, जो बाजार में गिरावट को दर्शाती है।

कमेंट करेंः

Please enter your comment!
Please enter your name here